ये रहे दूसरे वनडे में भारत की शानदार जीत के 5 हीरो


 

नई दिल्ली:  कप्तान विराट कोहली (92) की बेहतरीन पारी के बाद गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से भारत ने विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया को गुरूवार को यहां ईडन गार्डन में दूसरे वनडे में 50 रन से पीटकर 5 मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली।  भारत ने विराट की कप्तानी पारी से 50 ओवर में 252 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और ऑस्ट्रेलिया को 43.1 ओवर में 202 रन पर निपटा दिया। भारत ने इस तरह अपनी लगातार 11 वीं जीत हासिल कर ली। वैसे तो इस मैच में टीम इंडिया के सभी खिलाड़ियों ने अपना महत्वपूर्ण रोल अदा किया, लेकिन ये 5 खिलाड़ी रहे जीत के हीरो-

विराट कोहली
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इस लिस्ट सबसे पहले नंबर पर आते है और इस मैच में उन्होंने धमाकेदार पारी खेली और 92 रन बनाए, जिसमें 8 चौके थे। उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया। विराट कोहली को शतक पूरा न करने का मलाल जरुर रहेंगा क्योंकि अगर वो इसे पूरा कर लेते तो वन-डे क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे नंबर पर आ जाते।

अजिंक्य रहाणे
अंजिंक्य रहाणे ने भी अपनी बल्लेबाजी से अॉस्ट्रेलियाई गेंदबाजों पर दबाव बना दिया था और मैच की अच्छी शुरुआत की। रहाणे ने बेहतरीन वापसी करते हुए 64 गेंदों में 7 चौको की मदद से 55 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। रहाणे ने अपनी पारी के दौरान दो शॉट्स ऐसे खेले, जिसने सभी फैंस का दिल जीत लिया।

कुलदीप यादव
कुलदीप यादव एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे और पिछले 27 वर्षों के दौरान यह कारनामा करने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। इस चाइनामैन गेंदबाज ने पारी के 33वें ओवर में मैथ्यू वेड (दो) को बोल्ड किया, एशटन एगर को पगबाधा आउट किया और पैट कमिन्स को धोनी के हाथों कैच कराकर हैट्रिक पूरी की। उनसे पहले चेतन शर्मा और कपिल देव ने वनडे में भारत की तरफ से हैट्रिक बनाई थी।

महेंद्र सिंह धोनी 
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस मैच में चाहे अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाएं, लेकिन उन्होंने विकेटकींपिग और खिलाड़ियों की मदद कर मैच का रुख ही बदल दिया। इनकी जादुई स्टपिंग से सभी हैरान रह गए और मैक्सवेल भी जब तक गेंद समझते, धोनी ने उन्हें आउट कर दिया।

भुवनेश्वर कुमार 
भुवनेश्वर कुमार ने पहले बल्ले से 33 गेंदों में एक चौके की मदद से 20 रन की पारी खेलकर टीम इंडिया को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। फिर उन्होंने गेंदबाजी में कमाल करते हुए 6।1 ओवर में दो मेडन सहित सिर्फ 9 रन देकर 3 विकेट लिए।

 

 

खेलजगत क अन्य सेक्‍शन

सुविचार

Total Visit: 279617