मुलायम से मिले धोखे के बाद अब शिवपाल उठा सकते हैं ये बड़ा कदम


लखनऊ: समाजवादी परिवार में मची रार अभी भी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। शिवपाल यादव की मुश्किलें बढ़ती ही नजर आ रही हैं। सोमवार को सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के प्रेस कांफ्रेंस के बाद अब शिवपाल को नेताजी से भी हताश ही होना पड़ा। इस कांफ्रेंस के दौरान नई पार्टी की घोषणा की बात थी और सूत्रों के मानें तो इसके लिए शिवपाल यादव ने अपने बड़े भाई मुलायम सिंह यादव को एक प्रेस नोट भी दिया था लेकिन नेताजी ने उस नोट को पढ़ा ही नहीं।

जानकारी के अनुसार नई पार्टी के एेलान के लिए शिवपाल यादव कांफ्रेंस से पहले मुलायम सिंह से मिले थे, लेकिन नेताजी ने इस कदम से इनकार कर दिया और शिवपाल यादव को यहां से भी हताश ही होना पड़ा। अब राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चाएं तेज हो गई हैं कि अब भाई का साथ छोड़कर नया विकल्प यहीं माना जा रहा है कि वो नई पार्टी या नया मोर्चा का एेलान कर सकते हैं। क्योंकि उनको इस बात का अहसास होने लगा है कि अब नेताजी अखिलेश के आगे किसी ओर की नहीं सुनेंगे।

वहीं इन गलियारों में ऐसा अनुमान भी लगाया जा रहा है कि जहां वो एक तरफ रामगोपाल यादव पर बीजेपी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाते है वहीं दूसरी तरफ अब ये बात सामने आ रही है कि वो खुद बीजेपी के केद्र की राजनीति के लिए तैयारी कर रहे है। अब अपना राजनीतिक करियर बचाने के लिए शिवपाल यादव को कदम तो उठाना ही पड़ेगा। क्योंकि उनको नेताजी से जो उम्मीद थी अब वो भी टूट गई है।

अन्‍य ख़बरें

सुविचार

Total Visit: 279626